सोलर इन्वर्टर के लिए कौन सी बैटरी खरीदें Battery Buying Guide In Hindi

सोलर इन्वर्टर के लिए कौन सी बैटरी खरीदें Battery Buying Guide In Hindi

सोलर सिस्टम लगाते समय हमें काफी बातों का ध्यान रखना पड़ता हैं. लेकिन अगर आप ऑफ ग्रिड सोलर सिस्टम लगाते हैं. तो उसमें आपको बैटरी का भी ध्यान रखना पड़ता हैं. क्योंकि ऑफ ग्रिड सोलर सिस्टम में बैटरी और लगती हैं. ताकि हमें बिजली जाने पर यह रात के समय में बैकअप मिल सके.

अगर आप गलत बैटरी खरीद लेते हैं. तो आपको अच्छा बैकअप नहीं मिलता यह आप जितना अनुमान लगाते हैं. उतना बैकअप आपको नहीं मिलता इसीलिए बैटरी खरीदते समय कुछ बातों का ध्यान रखें ताकि बैटरी बैकअप आपको अच्छा मिलता रहे.

वैसे तो काफी लोग नॉर्मल बैटरी को भी सोलर पैनल के साथ में उपयोग करते हैं. जो कि कुछ हद तक ठीक हैं. लेकिन हर सिस्टम के साथ आप नॉर्मल बैटरी का उपयोग नहीं कर सकते क्योंकि सोलर बैटरी अलग रेटिंग के साथ में आती हैं. और नॉर्मल बैटरी अलग रेटिंग के साथ में आती हैं. नीचे आपको इसका उदाहरण दिया गया है.

कौन से रेटिंग की बैटरी खरीदें

150 Ah @C20 – अगर आप इस रेटिंग की बैटरी खरीदते हैं. तो आप इसे 7.5 एंपियर करंट से चार्ज और डिस्चार्ज कर सकते हैं. यानी कि इस बैटरी का उपयोग आप ज्यादा देर बैकअप लेने के लिए तो कर सकते हैं. लेकिन ज्यादा लोड चलाने के लिए नहीं कर सकते. और जो हमारे घर में नॉर्मल इनवर्टर आते हैं. ज्यादातर उनका चार्जिंग करंट लगभग 10 एंपियर के करीब होता हैं. इसलिए आप उस इनवर्टर पर 150 Ah @C20 रेटिंग की बैटरी को लगा सकते हैं. लेकिन अगर बात करें हम सोलर सिस्टम की तो सोलर सिस्टम में आपकी बैटरी सोलर पैनल और सोलर इनवर्टर दोनों से ही चार्ज होती हैं.

इसीलिए इस बैटरी को ज्यादा करंट से चार्ज किया जाता हैं. ताकि आपकी बैटरी जल्दी चार्ज हो सके इसीलिए सोलर इनवर्टर 150 Ah @C10 रेटिंग की बैटरी का उपयोग किया जाता हैं. यहां पर C10 रेटिंग का मतलब हैं. कि अगर आपकी बैटरी 150 Ah की हैं. तो इस बैटरी को 10 घंटे में 15 एंपियर करंट से चार्ज और डिस्चार्ज किया जाना चाहिए वही 200 Ah @C10 रेटिंग की बैटरी को 10 घंटे में 20 एंपियर करंट से चार्ज और डिस्चार्ज किया जाना चाहिए.

इसीलिए अगर आप सोलर बैटरी खरीदना चाहते हैं. तो 150 Ah @C10 रेटिंग की बैटरी कम से कम खरीदें और अगर आप ज्यादा लोड अपने इनवर्टर पर चलाना चाहते हैं. तो 200 Ah @C10 रेटिंग की बैटरी खरीदें. लेकिन नीचे आपको कुछ पॉइंट बताए जाएंगे कि आपको कितने Ah की बैटरी खरीदनी चाहिए.

कितनी Ah की बैटरी खरीदें

यहां पर Ah का मतलब हैं. Amp. X Hours , तो जितनी ज्यादा Ah की बैटरी आप खरीदेंगे वह उतना ज्यादा बैकअप आपको देगी. लेकिन बैटरी से पूरा बैकअप लेने के लिए उसे कुछ शर्तों पर इस्तेमाल करना पड़ता है. तभी आपको अच्छा बैकअप देगी जैसा कि आपको ऊपर उदाहरण दिया गया हैं.

battery

150 Ah @C10 रेटिंग की बैटरी को अगर आप 15 एंपियर करंट से चार्ज और डिस्चार्ज करेंगे तो वह आपको सही बैकअप देगी और अगर आप इस बैटरी पर 15 की बजाय ज्यादा एंपियर करंट से इसे चार्ज या डिस्चार्ज करेंगे तो यह बैटरी आपको 150 Ah जितना बैकअप नहीं देगी और आपकी बैटरी जल्दी खराब भी हो सकती है. इसीलिए हमेशा बैटरी पर जो रेटिंग दी जाती हैं. उसी के हिसाब से बैटरी को चार्ज डिस्चार्ज करें.

अब बात करते हैं. कि कितने Ah की बैटरी आपको चाहिए . तो इसके लिए आपको पता होना चाहिए कि कितना लोड आप कितनी देर तक चलाने वाले हैं. तभी आपको बैटरी की Ah का पता लगेगा. इसके लिए नीचे आपको एक फार्मूला दिया गया हैं. जिसकी मदद से आप बैटरी के Ah वैल्यू का अनुमान लगा सकते हैं. . इस कैलकुलेशन से आपको सटीक जानकारी तो नहीं मिलेगी लेकिन आप अनुमान जरूर लगा पाएंगे.

उदाहरण के लिए मान लीजिए आपके घर में आपको ,

2 पंखे = 140 w
3 एलईडी बल्ब (20w ) = 60 w
1 TV = 70 w
1 फ्रिज (190 Ltr) = 150 w
कुल = 420 w
420w का लोड आपको सिर्फ 3 घंटे चलाना है
420w X 3h = 1260 Wh

बैटरी की Ah वैल्यू
1260 / 12 (Volt) = 105 Ah

कैलकुलेशन के आधार पर आपको 105 Ah की जरूरत होगी लेकिन इनवर्टर के अंदर जब DC को AC में बदला जाता हैं. तो काफी पावर की हानि होती हैं. इसीलिए आपको लगभग 30 % से 50 % अधिक साइज की बैटरी लेनी चाहिए. अगर आपकी कैलकुलेशन में भी 105 Ah आता हैं.

तो आपको 150 Ah की बैटरी लेनी चाहिए और अगर 150 Ah के आस पास आप की कैलकुलेशन होती हैं. तो आप को 200 AH की बैटरी लेनी चाहिए. और अगर 200 Ah के आसपास आपकी कर कुलेशन होती हैं. तो आपको 300 Ah की जरूरत पड़ेगी तो उसके लिए आपको 150 Ah की 2 बैटरी लेनी होगी. इसी प्रकार आप बैटरी का चुनाव कर सकते हैं. लेकिन हमेशा बैटरी का चुनाव आपके कैलकुलेशन से बड़ी बैटरी का ही करें.

Lead-acid या Lithium Battery में से कौन सी बैटरी खरीदें

मार्केट में आपको वैसे तो लेड एसिड बैटरी ही ज्यादा देखने को मिलती हैं. क्योंकि लिथियम आयन बैटरी काफी ज्यादा महंगी होती हैं. और महंगी होने का कारण हैं. क्योंकि एक तो यह मेंटेनेंस फ्री बैटरी हैं. और यह लेड एसिड बैटरी के मुकाबले काफी लंबी चलती है.

लिथियम आयन बैटरी एक बार लगा कर भूल जाने वाली बैटरी हैं. लेकिन लेड एसिड बैटरी में आपको मेंटेनेंस की दिक्कत आती हैं. समय-समय पर आपको खुद बैटरी में पानी डालना पड़ता हैं. और अगर आप उस बैटरी में पानी डालना भूल जाते हैं. तो आपकी बैटरी बहुत जल्दी खराब हो जाती हैं. और आपको बिल्कुल भी बैकअप नहीं मिलता.

lithim-2

लिथियम आयन बैटरी की कीमत की बात करें तो आपको यह बैटरी 150 Ah क्षमता के साथ लगभग 26,000 रुपए में मिलेगी वहीं अगर लेड एसिड बैटरी की बात करें तो आपको 150 Ah की क्षमता वाली सोलर बैटरी आपको लगभग 13,000 में मिलेगी. लेकिन यहां पर आपको सबसे बड़ी दिक्कत आती हैं.

पैसे की अगर आपके पास में लिथियम आयन बैटरी खरीदने के लिए काफी अच्छा बजट हैं. तो आप बिल्कुल लिथियम आयन बैटरी को खरीद सकते हैं. जो कि लेड एसिड बैटरी के मुकाबले बहुत बढ़िया होती हैं. और उसके मुकाबले काफी लंबी चलती है.

लेकिन लिथियम आयन बैटरी के साथ में काफी दिक्कत आती हैं. सबसे पहले आपको इसके लिए इनवर्टर ढूंढना पड़ता हैं. मार्केट में अभी ऐसे इनवर्टर नहीं आए हैं. जिस पर आप लिथियम आयन बैटरी को सीधे कनेक्ट कर सकें. हालांकि लुमिनस कंपनी में इनवर्टर आता हैं. जिसके अंदर ही आपको लिथियम आयन बैटरी मिलती हैं.

लेकिन वह इनवर्टर आपके काम का हैं. या नहीं यह भी दिक्कत आती हैं. क्योंकि इनवर्टर की जो कैसी होती हैं. वह एक लिमिट तक होती हैं. तो हर किसी की जरूरत अलग-अलग होती हैं. जैसे कि किसी को 1 kw लोड चलाना पड़ता हैं. तो किसी को 5 kw लोड चलाना पड़ता हैं. इसीलिए आपको अपनी जरूरत के अनुसार सबसे पहले इनवर्टर देखना पड़ता हैं. और फिर उस इनवर्टर पर कितनी बैटरी आती हैं. उसी आधार पर आपको बैटरी खरीदनी पड़ती है.

तो लिथियम आयन बैटरी खरीदने से पहले आपको पता होना चाहिए कि आपका जो इनवर्टर हैं. वह लिथियम आयन बैटरी को सपोर्ट करता हैं. या नहीं अगर आप सीधे ही बिना पता करें लिथियम आयन बैटरी खरीद लेते हैं. तो यह आपके लिए खराब जाएगी क्योंकि इस बैटरी को चार्ज करने के लिए लेड एसिड बैटरी के मुकाबले ज्यादा करंट की आवश्यकता होती हैं. इसीलिए यह बैटरी एसिड बैटरी के मुकाबले काफी जल्दी चार्ज हो जाती है.

फायदे के मामले में लिथियम आयन बैटरी एसिड बैटरी से कई गुना अच्छी है. लेकिन अगर आप इसे अभी उपयोग करने की सोचेंगे तो शायद आपके यह काम नहीं आएगी क्योंकि अभी मार्केट में आपको इसको इस्तेमाल करने वाले जो इनवर्टर हैं. वह नहीं मिलेंगे. तो आप इसकी बजाय लेड एसिड बैटरी ही खरीद सकते हैं. जो कि आपको काफी सस्ती मिलेगी.

आज की इस पोस्ट में आपको lithium ion solar battery best solar battery in india best solar battery brands solar batteries prices best solar battery 2020 lithium ion solar battery price in india solar battery storage system cost solar battery price list से संबंधित पूरी जानकारी दी गई है अगर अभी भी इसके बारे में आपका कोई सवाल या सुझाव हो तो नीचे कमेंट करके पूछे और हमें फेसबुक इंस्टाग्राम टि्वटर पर फॉलो करें और हमारे चैनल को सब्सक्राइब करें.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

1 thought on “सोलर इन्वर्टर के लिए कौन सी बैटरी खरीदें Battery Buying Guide In Hindi”

  1. Heeralal Kushwaha

    Mujhe battary ka dhandha karana hai to kon sa certificate chahiye or knowledge ke liye korce kon sa kare

Scroll to Top