Solar Inverter

Best Lithium inverter For Home in India

Best Lithium inverter For Home in India lithium ion inverter,lithium inverter battery, lithium ion battery for home inverter, 

आज के इस वीडियो में हम बात करने वाले हैं लिथियम सोलर पीसीयू के बारे में जिसको भी लिथियम बैटरी सपोर्ट करने वाले लिथियम सोलर पीसीयू चाहिए उसके लिए ये वीडियो होने वाला है, लेकिन अभी ज्यादातर घरों में आपको लेड एसिड बैटरी ही देखने को मिलती है, लेकिन आने वाला समय लिथियम बैटरी का होने वाला है क्योंकि लिथियम बैटरी की कीमत अभी काफी कम हो गई है अगर आप सेम बैकअप वाली लिथियम बैटरी लेंगे, तो आपको लेड एसिड बैटरी की कीमत में ही मिल जाती है.

यहां पर सेम बैकअप का मतलब है कि जितना 150ah की बैटरी बैकअप देती है उतना ही बैकअप अगर आप लिथियम बैटरी में लेते हैं, तो जो बैटरी का प्राइस है वो सेम रहने वाला है. उदाहरण के तौर पर 150ah की Lead Acid बैटरी आपको 0.7 यूनिट तक का बैकअप दे सकती है, यानी कि अगर आप उसके ऊपर कोई 100 वाट का लोड चलाते हैं, तो आप लगभग 7 घंटे तक चला सकते हैं.

इतनी ही कैपेसिटी की बैटरी अगर आप लिथियम में लेना चाहेंगे, तो आप 80ah की बैटरी से ही इतना बैकअप ले सकते हैं, तो 80ah की लिथियम बैटरी और 150ah की Lead एसिड बैटरी आपको बराबर बैकअप देगी और इनका Price भी आपको मार्केट में एक जैसे ही देखने को मिलने वाला है. हालांकि लिथियम बैटरी में आपको थोड़ा बहुत Extra Cost  देना पड़ सकता है और उसका फायदा भी आपको होता है, क्योंकि एक लिथियम बैटरी maintenance free है.

इससे किसी तरह की कोई भी हार्मफुल गैस रिलीज नहीं होती स्पेस भी काफी कम लेती है वजन में भी काफी हल्की होती है तमाम फायदे आपको लिथियम बैटरी में मिलते हैं जिससे कि अगर आपको 2- 4000 रूपए एक्स्ट्रा देने भी पड़े, तो भी उसमें कोई दिक्कत नहीं है,  यहां पर अब बात करते हैं कि कौन-कौन से सोलर पीसीयू है जो कि लिथियम बैटरी को सपोर्ट करते हैं.

Transformerless Inverter

जितने भी ट्रांसफॉर्मर लेस्ट टेक्नोलॉजी के इनवर्टर हैं वो सभी लिथियम बैटरी को सपोर्ट कर सकते हैं क्योंकि उनके अंदर आपको एक कम्युनिकेशन का पोर्ट मिलता मिता है जो कि बैटरी के साथ कम्युनिकेट कर सकता है और एडवांस टेक्नोलॉजी की लिथियम बैटरी में आपको कम्युनिकेशन का पोर्ट मिलता है, तो अगर आप इनवर्टर और बैटरी के कम्युनिकेशन पोर्ट को मिला देते हैं, तो आपका इन्वर्टर और बैटरी आपस में कम्युनिकेट कर लेते हैं.

जिससे कि आपका सिस्टम काफी अच्छा परफॉर्म करता है, इसीलिए ट्रांसफॉर्मर लेस टेक्नोलॉजी पर आप बड़े ही आराम से लिथियम बट्री लगा सकते हैं, लेकिन उनकी कॉस्ट भी काफी ज्यादा होती है.

ट्रांसफॉर्मर वाले इन्वर्टर

अगर आप उनको नॉर्मल जो ट्रांसफॉर्मर वाले इन्वर्टर है. उस पर लिथियम  बैटरी लगानी हो, तो क्या कर, तो उसके लिए भी काफी कंपनियां अभी मार्केट में आ चुकी है. जो दावा करती है कि उनकी लिथियम बैटरी को आप नॉर्मल इन्वर्टर यानी कि ट्रांसफॉर्मर टेक्नोलॉजी वाले इन्वर्टर पर भी लगा सकते हैं चाहे वो सोलर इन्वर्टर हो या नॉर्मल इन्वर्टर हो.

काफी कंपनियों के अभी सोलर चार्ज कंट्रोलर भी मार्केट में आ गए हैं. जिनके अंदर आप लिथियम बैटरी के पैरामीटर की सेटिंग कर देते हैं, तो वो भी लिथियम बैटरी को सपोर्ट कर लेते हैं. जिसमें से Ashapower कंपनी का सोलर चार्ज कंट्रोलर एक है. जिसके अंदर आप काफी ज्यादा कस्टमाइजेशन कर सकते हैं, तो उसके ऊपर भी आप लिथियम बैटरी का यूज कर सकते हैं,

UTL Gamma Plus 3350

UTL गामा प्लस 3350 इनवर्टर स्पेशली अभी न्यू लॉन्च हुआ था.  यह पीसीयू लिथियम बैटरी को सपोर्ट कर लेता है. अगर आप यूटीएल कंपनी की ही लिथियम बैटरी लगाना चाहते हैं, तो वो भी लगा सकते हैं वो ज्यादा फायदेमंद रहता है, क्योंकि अगर आपके इन्वर्टर या बैटरी में भविष्य में  कभी भी दिक्कत आती है, तो आपको डायरेक्टली एक ही कंपनी से कांटेक्ट करना है. otherwise किसी अन्य कंपनी कंपनी की बैटरी लगाएंगे, तो वो बैटरी वाली कंपनी कह सकती है कि आपके इन्वर्टर में दिक्कत है और इन्वर्टर वाली कंपनी कह सकती है, कि आपकी बैटरी में दिक्कत है, तो ऐसे में जहां तक संभव हो एक ही कंपनी की इन्वर्टर और लिथियम बैटरी का उपयोग करने की कोशिश करें.

Su-vastika Inverter

स्वास्तिक कंपनी के अंदर भी आपको ऐसे लिथियम बैटरी वाले इन्वर्टर मिल जाते हैं और ये एक Combo भी आपको बना के दे सकते हैं यानी कि इनबिल्ट बैटरी वाला Inverter भी आप इनसे ले सकते हैं. जिसके अंदर ही बैटरी होती है, तो वहां पर आप को अलग से बैटरी लगाने की भी आवश्यकता नहीं है और बैटरी को रखने के लिए अलग जगह की भी जरूरत नहीं पड़ेगी, तो ऐसे आप किसी भी कंपनी से ले सकते हैं.

Suvastika का कंपनी के अंदर, तो काफी बड़ी रेंज है. इनकी लिथियम बैटरी की और लिथियम सोलर पीसीयू की, तो आप जितना बड़ा सिस्टम लेना चाहते हैं 100 Kva तक का भी सिस्टम इनसे ले सकते हैं .

Electrower Inverter

Electrower के इनबिल्ट लिथियम बैटरी वाले भी सोलर इन्वर्टर आते हैं और यहां पर अगर आप एक्सटर्नल बैटरी उनके सोलर पीसीयू पर लगाना चाहते हैं, तो इलेक्ट्रो कंपनी में वो भी आपको मिल जाएंगे और Electrower कंपनी के अंदर आपको काफी बड़े साइज के भी ट्रांसफार्मर वाले इन्वर्टर मिल जाते हैं.   अगर आपको 5Kva का भी इन्वर्टर चाहिए, तो भी Electrower कंपनी में मिल जाएगा.

Ashapower Inverter

इसके अलावा Ashapower कंपनी के सोलर चार्ज कंट्रोलर लिथियम बैटरी को सपोर्ट करते हैं.  वैसे ही इनके अभी सोलर पीसीयू भी आ चुके हैं. जिनका उपयोग आप लिथियम बैटरी के साथ में कर सकते हैं. वहीं पर वैसे ही पैरामीटर की आपको कस्टमाइजेशन करने की जरूरत है, तो यहां पर मैंने तीन से चार कंपनी बता दी है. ट्रांसफॉर्मर वाले इन्वर्टर की और ट्रांसफॉर्मर लेस टेक्नोलॉजी, तो आप किसी भी कंपनी के इन्वर्टर का उपयोग कर सकते है.

जितने भी ट्रांसफॉर्मर लेस इन्वर्टर आ रहे हैं इंडिया के अंदर सभी imported हैं. इंडिया के अंदर अभी तक ट्रांसफॉर्मर लेस्ट टेक्नोलॉजी के इन्वर्टर नहीं बनते हैं, तो वो आपको देखना है कि आपको ऐसे इन्वर्टर का यूज़ करना है या नहीं है .

luminous lithium ion battery, best lithium battery inverter, luminous inverter, lithium battery, best lithium ion battery, 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
अब बिना बैटरी के चलेगा Solar, 25 साल तक मुफ्त मिलेगी बिजली क्या है PM Surya Ghar स्कीम? 1 करोड़ घरों को मिलेगी फ्री बिजली सोलर पैनल बनाने वाली कंपनी के Share Price प्रधानमंत्री सूर्योदय योजना क्या है? जानें किसे मिलेगा इसका लाभ 6 किलोवाट सोलर पैनल से क्या-क्या चला सकते हैं