Solar Panel

बायफेशियल सोलर पैनल क्या है कीमत फायदे नुकसान

बायफेशियल सोलर पैनल क्या है. कीमत फायदे नुकसान

Bifacial solar panels In Hindi – पारंपरिक सोलर पैनल के विपरीत बायफेशियल सोलर पैनल आगे और पीछे दोनों तरफ से बिजली बना सकते हैं. सोलर पैनल के पीछे से sunlight आने पर भी है. बिजली बना सकता है. बायफेशियल सोलर पैनल साधारण Mono Facial सोलर पैनल से ज्यादा बिजली बना सकता है.

बायफेशियल सोलर पैनल के पीछे का सरफेस जितना अच्छा और ज्यादा sunlight को परावर्तित करेगा यह सोलर पैनल उतनी ही ज्यादा बिजली पीछे की तरफ से बना सकेगा. इसीलिए इस सोलर पैनल के पीछे का सरफेस हमेशा ज्यादा से ज्यादा सफेद रखने की कोशिश करनी चाहिए.

Bifacial solar panels meaning – बायफेशियल सोलर पैनल के पीछे बैक सीट का इस्तेमाल नहीं किया जाता इसके पीछे पारदर्शी कांच का उपयोग किया जाता है. जिससे कि albedo light से भी बिजली उत्पन्न कर सकता है.

बायफेशियल सोलर पैनल सामान्य सोलर पैनल के मुकाबले 5- 30 % अधिक बिजली का उत्पादन कर सकता है. यह इतनी अधिक बिजली का उत्पादन करेगा यह इसके पीछे सरफेस पर निर्भर करता है.

Luminous सोलर पैनल की कीमत इन इंडिया

बायफेशियल सोलर पैनल के फायदे

Bifacial solar panels advantages – बायफेशियल सोलर पैनल का मतलब होता है. दोनों तरफ से बिजली बनाने वाला .बायफेशियल सोलर पैनल की एफिशिएंसी मार्केट में मिल रहे सभी सोलर पैनल से ज्यादा होती है. जिसका मतलब है. कि आप कम स्पेस में भी ज्यादा बिजली बना सकते हैं.

मार्केट में आपको 440w तक के बाई फेशियल सोलर पैनल देखने को मिलते हैं. जो कि 500w से भी अधिक बिजली बना सकते हैं. अगर उन्हें सही जगह पर और सही तरीके से लगाया जाए तो. हम एक पैनल की मदद से 500w बिजली बना सकते हैं. तो जिस को सिर्फ 2kw का सोलर प्लांट लगाना है.

तो उसे बाई फेशियल सोलर पैनल के सिर्फ 4 पैनल की आवश्यकता होगी.वहीं अगर हम साधारण MONO Perc सोलर पैनल का उपयोग करें तो हमें 6 सोलर पैनल की आवश्यकता होगी. तो यहां पर आप 2 पैनल की जगह बचा सकते हैं.

जिसके घर पर या जहां पर भी उसे सोलर पैनल लगाने हैं. वहां पर जगह की कमी है. तो उसके लिए बायफेशियल सोलर पैनल बिल्कुल बेस्ट रहेंगे.

बायफेशियल सोलर पैनल के नुकसान

बायफेशियल सोलर पैनल के वैसे तो बहुत सारे फायदे हैं. लेकिन इसमें कुछ कमियां भी है. जिन्हें हम नुकसान तो नहीं कहेंगे लेकिन वह इस सोलर पैनल की कमियां बताई जा सकती है. जैसे कि .

इस सोलर पैनल का भार दूसरे सोलर पैनल के मुकाबले काफी ज्यादा होता है. इसीलिए इसे अधिक मजबूती वाले स्टैंड की आवश्यकता होती है. ताकि अगर आंधी या तूफान आए तो हमारे सोलर पैनल को कोई भी हानि ना पहुंचे.

इसके अलावा इस सोलर पैनल की कीमत दूसरी सोलर पैनल के मुकाबले काफी अधिक है. क्योंकि यह टेक्नोलॉजी मार्केट में अभी नई आई है. तो इस टेक्नोलॉजी के सोलर पैनल आपको काफी महंगी देखने को मिलेंगे.

उदाहरण के लिए Loom Solar कंपनी का 440w का बाई फेशियल सोलर पैनल आपको लगभग 20,000 रुपए में मिलेगा जो कि 530w तक बिजली बना सकता है. अगर उसे सही जगह पर लगाया जाए तो. और वही अगर हम दूसरे सोलर पैनल की बात करें तो आप ₹20000 में 800w तक के सोलर पैनल खरीद सकते हैं.

जहां पर जगह की कोई दिक्कत नहीं होती वह साधारण MONO Perc सोलर पैनल का उपयोग कर सकता है. और अपने काफी पैसे भी बचा सकता है.

बायफेशियल सोलर पैनल की कीमत भारत में

Bifacial solar panel price india – जैसा कि मैंने ऊपर आपको बताया यह टेक्नोलॉजी मार्केट में अभी नई आई है. तो यह आपको काफी महंगी पड़ेगी. Normally मार्केट में आपको 35 से 45 रुपए प्रति watt बायफेशियल सोलर पैनल देखने को मिलेंगे.

अगर आप एक सोलर पैनल खरीदेंगे तो शायद आपको 45 रुपए प्रति watt के हिसाब से सोलर पैनल मिलेंगे. और अगर आप ज्यादा बड़ा सोलर प्लांट लगा रहे हैं. तो वहां पर इन सोलर पैनल की कीमत कम हो जाती है.

बायफेशियल सोलर पैनल की एफिशिएंसी

Bifacial solar panels efficiency – इस सोलर पैनल की एफिशिएंसी मार्केट में मिल रहे सभी सोलर पैनल के मुकाबले काफी ज्यादा है. बायफेशियल सोलर पैनल की एफिशिएंसी लगभग 27% होती है.

पीछे की तरफ से काम करने के कारण यह 5- 30 % अधिक पावर जनरेट कर सकता है. वही मोनोक्रिस्टलाइन सोलर पैनल की एफिशिएंसी लगभग 20-22 % होती है. पॉलीक्रिस्टलाइन सोलर पैनल की एफिशिएंसी 15-17 % होती है.

बायफेशियल सोलर पैनल बनाने वाली कंपनी

पूरी दुनिया में बाय फेशियल सोलर पैनल तो बहुत सारी कंपनियां बनाती है. लेकिन भारत में ऐसी काफी कम ही कंपनियां हैं. जो कि बायफेशियल सोलर पैनल बनाती है. नीचे आपको कुछ कंपनियों के नाम दिए गए हैं. जो कि बायफेशियल सोलर पैनल बनाती है.

  • Adani Solar
  • Contendre Solar
  • Emmvee Photovoltaic
  • Insolation Energy
  • KEPL
  • Saatvik
  • RenewSys
  • Pixon Energy
  • MicroSun Solar
  • SLG Solar
  • Soleos Solar Energy
  • Topsun
  • Vikram Solar
  • Wolt Solar

बायफेशियल सोलर पैनल किसके लिए सही है

जैसा कि हमने ऊपर आपको बताया यह टेक्नोलॉजी नहीं है. इसलिए इसकी कीमत भी काफी ज्यादा है. तो जिस का बजट कम होगा उसके लिए यह सोलर पैनल बिल्कुल नहीं है.

क्योंकि इसकी कीमत दूसरी सोलर पैनल के मुकाबले लगभग दोगुनी है. जिसके पास जगह की कोई कमी नहीं है. उसको भी इस सोलर पैनल का उपयोग करने की आवश्यकता नहीं है.

भारत में बेस्ट सोलर पैनल कैसे खरीदें Best Solar Panel In India

इस सोलर पैनल का उपयोग 1 बैटरी वाले इनवर्टर के लिए नहीं कर सकते क्योंकि बाय फेशियल सोलर पैनल की VOC लगभग 50v होती है. और नॉर्मल ही 1 बैटरी वाले PWM टाइप के सोलर इनवर्टर 23V तक की VOC को सपोर्ट करते हैं. और MPPT टाइप के सोलर इनवर्टर लगभग 45V की Voc को सपोर्ट करते हैं.

मार्केट में कुछ ऐसे इनवर्टर हैं. जो कि 50V की VOC को सपोर्ट करते हैं. लेकिन फिर उनकी कीमत काफी ज्यादा है. जिससे कि आपको पूरा सोलर सिस्टम बहुत महंगा पड़ेगा.

तो अगर आप 2 बैटरी का एमपीपीटी सोलर सिस्टम लगाना चाहते हैं. तभी आपके लिए यह सोलर पैनल फायदेमंद रहेगा नहीं तो आपको पॉलीक्रिस्टलाइन या Mono PERC सोलर पैनल का उपयोग करना पड़ेगा जो कि आपके लिए बहुत ज्यादा फायदेमंद रहेगा.

इस सोलर पैनल का उपयोग सिर्फ उसी को करना चाहिए जिसके पास जगह की कमी है. या जो नई टेक्नोलॉजी के सोलर पैनल लगाना चाहता है. या जिसके पास पैसे की कोई कमी नहीं है.

bifacial solar panel price india bifacial solar cells tata bifacial solar panel price bifacial solar panels efficiency bifacial solar panels cost bifacial solar panel manufacturer bifacial solar panels advantages bifacial solar panels meaning

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
अब बिना बैटरी के चलेगा Solar, 25 साल तक मुफ्त मिलेगी बिजली क्या है PM Surya Ghar स्कीम? 1 करोड़ घरों को मिलेगी फ्री बिजली सोलर पैनल बनाने वाली कंपनी के Share Price प्रधानमंत्री सूर्योदय योजना क्या है? जानें किसे मिलेगा इसका लाभ 6 किलोवाट सोलर पैनल से क्या-क्या चला सकते हैं